इस मंदिर को कॉपी किया गया है लोकतंत्र का मंदिर संसद बनाने के लिए, घूमने का खर्च मात्र 2 हजार रूपय है

नेताओं की वजह से आज इस मंदिर को भुला दिया गया है, संसद बनी थी इसकी तर्ज पर

206
Breaking News, Viral News, Latest News, Trending News, Hindi News, Latest News hindi, India, HF News, HindustanFeed, Temple copied make Parliament

Temple copied make Parliament: चुनावी माहौल है तो हर तरफ चुनाव की चर्चा चल रही है, तभी हमने भी सोचा की राजनीति से जुड़ी कोई ख़ास बात आपके लिए लाते हैं. खैर आज हम आपके लिए लोकतंत्र का मंदिर कहलाये जाने वाले संसद के बारें में कुछ बताने वाले हैं. यदि आपने राजनीति में थोड़ा सा भी इंटरेस्ट रखा है तो आप ससंद को देख चुके होंगे टीवी या फिर आप लाइव भी देख चुके होंगे,

Temple copied make Parliament –

दरअसल आप की जानकारी के लिए बता दे की, पर शायद ही आप यह जानते होंगे की संसद किस की तरह बनाया गया है या फिर उसका डिजाइन कहां से लाया गया है. भारत का ससंद बहुत ही शानदार तरीके से बना हुआ है और किसी Breaking News, Viral News, Latest News, Trending News, Hindi News, Latest News hindi, India, HF News, HindustanFeed, Temple copied make Parliamentमंदिर से कम नहीं है, तो आपको बता दूँ की संसद एक मंदिर की कॉपी हैं. चौसठ योगिनी मंदिर मध्यप्रदेश में के मुरैना जिले में यह हिन्दू मंदिर है. एक समय था जब यहाँ लाखों की संख्या में दर्शक जाते थे.

और बहुत से राजनेता यहाँ पर भाषण दिया करते थे. आपको बता दूँ की लोकतंत्र का मंदिर कहलाया जाने वाला संसद इसी मंदिर की तर्ज पर बनाया गया है. पर आज इस मंदिर की सुध लेने के लिए कोई भी यहाँ नहीं आता है. यहाँ आज भी Breaking News, Viral News, Latest News, Trending News, Hindi News, Latest News hindi, India, HF News, HindustanFeed, Temple copied make Parliamentदर्शक आते हैं पर उन्हें यहाँ तक आने के लिए पर्याप्त साधन भी नहीं है. वैसे तो अनेक नेता है जो हिन्दूत्व की बात करते है पर एक हिन्दू मंदिर की हालत आप इस तस्वीर में देख सकते हो.

मंदिर का निर्माण और क्या है ख़ास बात –

इस मंदिर का निर्माण क्षत्रिय राजाओं ने 1323 ई. में करवाया गया था. इस मंदिर में 64 कमरे बने हुए है और हर एक कमरे में एक शिवलिंग है, इस वजह से इस मंदिर का नाम 64 योगिनी पड़ा है. इस मंदिर की एक ख़ास बात यह भी है की यहाँ मंदिर तक पहुंचे के लिए करीब 200 सीढियों पर चढना पड़ता है. इतना ही नहीं इस मंदिर को 101 खम्भो पर टिकाया गया है उन्ही के साहरे यह पूरा मंदिर खड़ा है. यह माता का मन्दिर है और यहाँ पर माता की पूजा भी की जाती है पर आज इस मंदिर की कोई भी सुध नहीं ले रहा है.

काली का अवतार माना जाता है इस मंदिर को –

माना जाता है की इस मंदिर में काली का अवतार आज भी मौजूद है. कहा जाता है की यहाँ लाखो ऐसे तांत्रिक भी आते है जो पुरे देश और धर्म में अपने तंत्र को मजबूत करने के लिए यहाँ काली माँ की उपासना भी करते है. वहीँ बहुत से विदेशी लोग यहाँ पर फिल्म बनाने के लिए भी आते है. अगर मैं अपने शब्दों में कहूँ तो इस मंदिर में आज लाखो लोग जाते है पर बहुत कम लोगों ने इस बात को समझा है देखा है की इस मंदिर की तर्ज पर संसद भी बना हुआ है.

यहाँ और भी ट्यूरिस्ट पैलेस हैं –

अगर बात यहाँ घुमने आने वाले लोगों की है तो यहाँ पर देखने के लिए बहुत सी चीजे है, यहाँ का शनिचरा मंदिर भी बहुत फेमस है, यहाँ आने वाला हर इंसान इस मंदिर में जरुर जाता है. यहाँ तक की इस मंदिर पर मूवी भी बन चुकी है. वैसे तो Breaking News, Viral News, Latest News, Trending News, Hindi News, Latest News hindi, India, HF News, HindustanFeed, Temple copied make Parliamentआज के समय में चुनाव चल रहे है और अनेक हिन्दू हितेसी नेता बड़ी बड़ी बात करेंगे पर आज तक किसी भी नेता ने इन मंदिरों के बारें में नहीं सोचा है. यदि किसी नेता तक यह बात पहुंची है तो उनका हक़ बनता है की इन मंदिरों में वो सभी सुविधा लागू करवाए जो अन्य मंदिरों में होती है.

लोकतंत्र का मंदिर बना है इस मन्दिर की तर्ज पर –

इस बात में कोई दोराह नहीं है की लोकतंत्र का मंदिर कहलाया जाने वाला संसद इस मंदिर की तर्ज पर बना हुआ है. आप दोनों की तस्वीर देख सकते हो दोनों ही एक दुसरे के कॉपी लगते है पर आपको यह बता दूँ की इस मंदिर की तर्ज पर संसद का निर्माण किया गया है पर आज इस मंदिर के इतने बुरे दिन आ गये हैं की कोई भी नेता इस मंदिर में अपने पैर नहीं रखता है और कहते है ना की समय के साथ सब बदलता है वैसे ही इस मंदिर की काय कब पलटेगी उसका इन्तजार इस मंदिर को भी है. यदि आप इस मंदिर में घूमना चाहते हो तो आप मात्र 2000 रूपए तक के खर्च में घूम सकते हो यहाँ तक की रात भी रह सकते हो तो यदि आपका चक्कर मध्यप्रदेश लगे तो इस मंदिर जरुर जाना.   ……Next

ये भी देखें – बेटे से दूर ना होने की चाह में 6 महीने तक बहु के इशारों पर नाचती रही सास, फिर हुआ यह अंजाम