भाजपा संसदीय बोर्ड ने लिया फैसला, प्रधानमंत्री मोदी इस बार यहाँ की लोकसभा सीट से लड़ेंगे चुनाब

518
Breaking News, Viral News, Latest News, Trending News, Hindi News, Latest News hindi, India, HindustanFeed

Prime Minister Modi Lok Sabha seat: भाजपा की संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 2019 के लोकसभा चुनाब में किस सीट से लड़ेंगे इस बात की फैसला हो गया है। आप की जानकारी के लिए बता दे की इस बार एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी उत्तर प्रदेश के इस लोकसभा सीट से चुनाब लड़ेंगे। संसदीय दल की बैठक में पहले नाम बड़ोदरा और वाराणसी का नाम पहले रखा गया था। क्योकि बैठक में भाग लेने आये सभी बड़े नेता का बिचार में भी यही बात की पुस्टि की जा रही थी।

Prime Minister Modi Lok Sabha seat –

आप की जानकारी के लिए बता दे की पिछले बार 2014 में हुए लोकसभा चुनाब के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो लोकसभा सीट से चुनाब लड़े थे, जिसमे उत्तर प्रदेश का वाराणसी और गुजरात का बड़ोदरा शामिल था। हालांकि दोनों सीट पर से पीएम मोदी की भारी बहुमत के साथ जित हासिल हुई थी, लेकिन फिर उन्होंने बड़ोदरा सीट को छोड़ दिया था। वही आप को बता दे की भाजपा संसदीय बोर्ड ने अपने बैठक में यह फैसला लिया है की एक बार फिर से पीएम मोदी उत्तर प्रदेश से ही 2019 के चुनाब लड़ेंगे।

काशी विश्‍वनाथ की धरती से लड़ेंगे चुनाब –

भाजपा संसदीय बोर्ड में सभी विरष्ठ नेताओ द्वारा यह फैसला लिया गया है की प्रधानमंत्री मोदी जी उत्तर प्रदेश के काशी विश्‍वनाथ लोकसभा शीट से 2019 के चुनाब में लोकसभा चुनाब लड़ेंगे। दिल्ली में हुए भाजपा संसदीय बोर्ड के करीब तीन घंटो तक बैठक के बाद यह फैसला लिया गया है की वारणशी से ही चुनाब लड़ेंगे। वही आप को बता दे की इस बैठक से पहले कई तरह की अटकले लगाई जा रहे थी, जिसमे बताया जा रहा था की पीएम मोदी इस बार ओडिशा के पूरी लोकसभा शीट से चुनाब लड़ सकते है।

लेकिन दिल्ली में हुए भाजपा संसदीय बोर्ड के बैठक में यह साफ हो गया की वो कहा से चुनाब लड़ेंगे साथ ही वाकी सभी जगहो की अटकलों पर पूर्णविराम लग गया।

एक नजर 2014 में हुए मोदी जी के चुनाब पर –

दरअसल आप को याद दिला दे की पिछली बार जब 2014 में मोदी जी के वारणशी लोकसभा सीट से चुनाब लड़ने के ऊपर भाजपा संसदीय बोर्ड द्वारा फैसला ले लिया गया उसके बाद आम आदमी पार्टी के केजरीवाल जो अभी दिल्ली के मुख्यमंत्री है उन्होंने बहुत ही जोस खरोस के साथ पीएम मोदी के बिरुद्ध चुनाबी मैदान में आने का फैसला किये थे और फिर इसी सीट से उन्होंने भी चुनाब भी लड़ा था। हालांकि प्रधानमंत्री मोदी जी 2014 में मोदी जी के वारणशी लोकसभा सीट से चुनाब भारी मतों से जित गए थे। और आम आदमी पार्टी के केजरीवाल को हार का मुँह देखना पड़ा था।

भाजपा इस बार के चुनाब में बदली अपनी रणनीति –

आप को बता दे की भाजपा ने 2019 में होने वाले चुनाब को लेकर अपनी चुनाबी रणनीति के साथ साथ कुछ बड़े और कड़े फैसले लेने का बिचार कर ली है। दिल्ली में हुई भाजपा संसदीय बोर्ड के बैठक में यह साफ कर दिया है की इस बार सभी लोकसभा चुनाब के शीटों के बहुत ही साबधानी पूर्वक शीटों पर टिकट को बाट रही है। इस बार के चुनाब में जितने वाले उम्मीदवार को ही टिकट दिया जा रहा है।

वही बैठक में यह भी साफ कर दिया गया है की जिनकी उम्र 75 साल से ज्यादा हो गई है उन उम्मीदवारों की टिकट मिलना मुश्किल है। साथ ही एक बार फिर से पीएम मोदी को दुवारा प्रधानमंत्री बनाने का दावा भी किया गया है। – Prime Minister Modi Lok Sabha seat ……Next

अमेरिका द्वारा GSP से बाहर करने के जबाब में, भारत में मोदी सरकार इन पर पर टैक्स बढाकर भरपाई पर बिचार कर ली