पहले बजट, उस के बाद पीएम मोदी का एक और बड़ा ऐलान, राहुल गांधी की बढ़ी मुश्किलें

281
Modi farmers gave 17 rs

Modi farmers gave 17 rs: 1 फरवरी, 2019 को वित्त मंत्री पीयूष गोयल द्वारा संसद में लाया गया मोदी सरकार का आखिरी बजट अभी भी चर्चा का विषय है। गौरतलब है कि मोदी सरकार ने इस बजट में देशवासियों को उम्मीद से ज्यादा तोहफे दिए हैं। बताते चलें कि इस बजट में गरीब वर्ग से लेकर अमीर लोगों तक सभी का ध्यान रखा गया है। यही कारण है कि इस बजट की प्रशंसा चारों ओर हो रही है। दूसरी ओर, विपक्ष भी इस बजट की खुलकर आलोचना नहीं कर रहा है क्योंकि बजट को शानदार तरीके से बनाया गया है।

Modi farmers gave 17 rs –

वहीं, संसद में इस बजट की प्रस्तुति के बाद, प्रधान मंत्री मोदी ने एक और बड़ी घोषणा की। बताते चलें कि पीएम मोदी ने घोषणा की कि यह बजट अभी ट्रेलर है। सरकार अब देशवासियों को सभी उपहार देने की तैयारी कर रही है। इसलिए, हमारे देश के बुनियादी ढांचे, व्यापारियों और किसानों सहित आम लोगों के जीवन में बड़े बदलाव होंगे। दूसरी ओर एनडीए के नेता रामविलास पासवान ने इस बजट को विपक्ष पर सर्जिकल स्ट्राइक बताया है।

आपको बता दें कि विपक्ष के नेता राहुल गांधी ने बजट को लेकर सीधे मोदी सरकार पर निशाना नहीं साधा है। हालांकि उन्होंने इस बजट को एक जुमला करार दिया। लेकिन राहुल गांधी ने नोटबंदी, जीएसटी सहित सभी मुद्दों पर सरकार को चेतावनी दी है कि 2019 में देश की जनता उन पर सर्जिकल स्ट्राइक करेगी। यही नहीं, राहुल गांधी ने किसानों को प्रतिदिन 17 Rs देने पर नाराजगी जताई और उन्होंने इस पूरी प्रक्रिया को किसानों का अपमान बताया है।