भारतीय वायु सेना द्वारा किये गए स्ट्राइक में निशाने पर थे, ये 5 मोस्ट वांटेड आतंकी

284

Indian Air Force target: आज तड़के सुबह – सुबह जिस समय पाकिस्तान में आतंकवादी चैन की नींद सो रहे थे, उसी समय भारतीय वायु सेना ने करीब 3 बजकर 29 मिनट में आज की सुबह सदा के लिए उन आतंकवादियों को चैन की नींद सुला दिया। आप को बता दे की आज भारतीय वायु सेना के एयर स्ट्राइक में पाकिस्तान की सरजमीं पर और पाकिस्तान सरकार के पनाह में पलने वाले बहुत सारे खूंखार आतंकी जो भारत के लिए सिरदर्द बना हुआ था उन सभी आतंकियों को इस एयर स्ट्राइक में मारे गए।

Indian Air Force target –

दरअसल आप की जानकारी के लिए यह भी बता दे की, कश्मीर के पुलवामा में किये गए आत्मघाती आतंकी हमले की साजिश रचने वाले और इस हमले को करवाने वाले पाकिस्तान में ही पलने वाले जैश-ए-मोहम्मद ने इस घटना के बाद वीडियो जारी कर तुरंत ही जिम्मेदारी ली थी। जिसके बाद से ही भारत की सेना और सरकार की ओर से कहा जा रहा था की इस हमले के पीछे जितने भी गुनेहगार है किसी को भी छोड़ा नहीं जाएगा। इस हमले का बदला लेने की जिम्मेदारी भी सरकार की ओर से सेना को शौप दी गई थी।

इस एयर स्ट्राइक में पांच मोस्ट वांटेड आतंकी थे निशाने पर –

आप को बता दे की भारतीय वायु सेना के निशाने पर इस स्ट्राइक में मुख्य रूप से पांच मोस्ट वांटेड खूंखार आतंकी को शामिल किया गया था। इंडियन एयरफोर्स द्वारा किये गए कारवाई में जैश-ए-मोहम्मद का सबसे बड़ा आतंकी ठिकान को तबाह और तहस नहस कर दिया गया, इसके साथ ही जैश-ए-मोहम्मद के तीन सबसे बड़े लांच पैड को भी तबाह और तहस नहस कर दिया गया हमारे वायु सेना द्वारा।

Indian Air Force target पांच मुख्य आतंकी –

भारतीय वायु सेना द्वारा किये गए स्ट्राइक में, एक नंबर पर – मौलाना अम्मार- जैश के आका मसूद अजहर का भाई जो कश्मीर और अफगानिस्तान में आतंकी वारदातों से जुड़ा रहा है!

भारतीय वायु सेना द्वारा किये गए स्ट्राइक में, दूसरे नंबर पर – मौलाना तल्हा सैफ- मसूद अजहर का भाई और प्रचार विभाग का प्रमुख थे!

Indian Air Force द्वारा किये गए स्ट्राइक में, तीसरे नंबर पर – मुफ्ती अजहर खान कश्मीरी- कश्मीर ऑपरेशन का प्रमुख थे!

Indian Air Force द्वारा किये गए स्ट्राइक में, चौथे नंबर पर – इब्राहीम अजहर- मौलाना मसूद अजहर का बड़ा भाई थे!

भारतीय वायु सेना द्वारा किये गए स्ट्राइक में, पांचवे नंबर पर – यूसुफ अजहर- मसूद अजहर का साला और प्रशिक्षण केंद्र का प्रमुख थे!

आप को बता दे की पुलवामा में CRPF के काफिले पर किये गए आत्मघाती आतंकी हमलें में हमारे देश के 40 जवान शहीद हो गए थे। उसके बाद से ही इस निंदनीय आतंकी हमले का बदला लेने के लिए पुरे भारत की जनता के दिलों में गुस्सा ब्याप्त था। जिसके बाद आज इस हमले के 12 दिन उन आंतकवादियों के खिलाफ पाकिस्तान की पनाह में पलने वाले आतंकी ठिकानों पर भारत की वायु सेना की ओर से पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक किया!

कारवाई के दौरान ये मारे गए –

इंडियन एयर फोर्स की तरफ से इस पाकिस्तान के ऊपर एक दर्जन मिराज विमानों ने पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर लगभग 1000 किलो विस्फोटक गिराए! भारत की ओर से इस कारवाई में पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का ट्रेनिंग कैंप था! जिसका संचालन मसूद अजहर का निगरानी में मौलाना यूसुफ अजहर कर रहा था! वो रिश्ते में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर का साला लगता है!

आप को बता दे की, वो काफी समय से जैश के साथ काम कर रहा था! लेकिन वो कभी लाइम लाइट में नहीं आता था! वही आप को यह भी बता दे की 1999 में कंधार विमान अपहरण में यूसुफ अजहर शामिल हुआ था! उस समय वह वो अपहरणकर्ताओं की टीम को लीड कर रहा था, उसकी की निगरानी में घटना को अंजाम दिया गया था! जिस समय वह भारत से मसूद को छुड़ाने के बाद वो फिर जैश में भर्ती का काज काम देखने में लगा रहता था!

आप की जानकारी के लिए यह भी बता दे की, बाद में मसूद अजहर ने यूसुफ अजहर को संगठन में अहम जिम्मेदारी शौपी! उसे बालाकोट में मौजूद आतंकी ट्रेनिंग कैंप की जिम्मेदारी दी भी शौपी गई! हमले के समय यह वही था इसलिए यूसुफ मंगलवार को इंडियन एअर फोर्स के हमले में मारा गया! उसके साथ ही जैश के कई टॉप कमांडर और ट्रेनर भी मारे गए भी एयर फोर्स के इस स्ट्राइक में मारे गए! …..Next