सड़क पर रो रही थी 80 साल की महिला, वहां से गुजरने वाले लोग कर रहे थे इग्नोर तभी एक अनजान ब्यक्ति के पूछने पर रोते रोते सुनाई दो बेटों की बेरहमी की दास्ताँ

377

80 year old woman story: नोएडा से एक 80 साल की महिला की दुःख भरी कहानी सोशल मिडिया पर वायरल हो रही है। इनकी दर्द भरी कहानी सुनकर आप का भी दिल पसीज जायेगा, लेकिन इस बुजुर्ग महिला के दो बेटों का दिल नहीं पसीजा। आप की जानकारी के लिए बता दे की 80 साल की महिला अपने बेटों की परवरिश में सारी उम्र खपा दी। लेकिन अब उसी मां को उम्र के पड़ाव में उन्हीं के दोनों बेटों ने मारपीट कर घर से निकल सड़क पर छोड़ दिया।

80 year old woman story –

बुजुर्ग महिला सड़क के किनारे पड़े पड़े आँशु बहाने के अलावा और क्या क्र सकती थी। वही आप को बता दे उस रास्ते से आने जाने वाले लोग भी उस रोते हुए बुजुर्ग महिला को इग्नोर कर निकल जा रहे थे। किसी को भी थोड़ी सी ममता नहीं आ रही थी। तभी एक अनजान ब्यक्ति रोते हुए 80 साल की महिला के पास गया और उससे रोने का कारन पूछा। तो बूढ़ी मां ने अपने दो बेटों की बेरहमी की जो दर्द भरी दास्तां सुनाई उसे सुनकर हर किसी का दिल पसीज गया।

जानिए क्या था पूरी घटना –

वहां के स्थानीय पुलिस के मुताबिक, इस महिला का नाम सोना देवी है और इनके दो बेटे है। यह बुजुर्ग महिला मथुरा की रहने वाली है, इनके दोनों बेटो ने इनके साथ मारपीट कर इन्हे 80 साल के उम्र का पड़ाव का कोई भी फिक्र नहीं करते हुए वृंदावन छोड़कर चले गए आये थे। जिसके बाद यह महिला एक बस में बैठ गई और सोमबार की दोपहर 2 बजे नोएडा के सेक्टर-31 पहुंच थी।

रोते रोते सुनाई दो बेटों की बेरहमी की दास्ताँ –

वही पास में काम करने वाले एक गार्ड ने जब इस महिला को रोते देखा तो उससे रोने का कारन पूछा और यहाँ रोड पर क्या कर रही है। तब 80 साल की बुजुर्ग महिला ने रोते रोते सुनाई दो बेटों की बेरहमी की दास्ताँ की कहानी। जिसके बाद उस गार्ड ने महिला को पास के शिव मंदिर में रखकर देखभाल की। लेकिन ड्यूटी खत्म होने के बाद उसे घर जाना था इस वजह से उसने आसपास के लोगों को जानकारी दी।

उसके बाद सभी लोगो ने वहां की पुलिस को सूचना दी, लेकिन लोगो का आरोप है की पीसीआर वहां आई, पर महिला को उसी हालत में छोड़कर वापस चली गई थी। जिसके बाद इस बात की शिकायत लोगो ने वहां के डीएम से कर दी, डीएम के निर्देश पर उस महिला को तुरंत जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

मदद करने वाले उस गार्ड का नाम मनीष यादव है, और यह बुजुर्ग महिला मथुरा की रहने वाली है। मनीष के पूछने पर ही महिला ने अपनी सारी आप बीती सुनाई और बेटो द्वारा किये गए इस तरह के ब्यबहार को भी बताई। वही डीएम बीएन सिंह ने बताया है कि फिलहाल सीएमओ को निर्देशित कर महिला के इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया दिया गया है। साथ ही 80 साल की सी बुजुर्ग महिला की देखभाल करवाई जा रही है।…….Next